Tuesday, 6 January, 2009

एस गुरुमूर्ति के कर कमलों से उपकृत


एस. गुरुमूर्ति मतलब स्वामिनाथन गुरुमूर्ति। दुनिया के अगर पांच सर्वोत्तम खोजी पत्रकारों की सूची बनेगी, तो उसमें एस। गुरुमूर्ति का नाम स्वçर्णम अक्षरों में लिखा जा सकता है। पढ़ाई से चार्टर्ड अकाउंटेंट गुरुमूर्ति इंडियन एक्सप्रेस के मालिक रामानाथ गोयनका के सलाहकार रह चुके हैं। गोयनका 72 साल के हुआ करते थे और गुरुमूर्ति 27 साल के। गोयनका ने ही गुरुमूर्ति को धीरूभाई अंबानी की तेज तरक्की की पड़ताल करने के काम में लगाया था। गुरुमूर्ति इस काम में बहुत कामयाब रहे और रिलायंस को असलियत उजागर होने से कई परेशानियों का सामना करना पड़ा था। गुरुमूर्ति का चरित्र मणिरत्नम की फिल्म गुरु में भी पत्रकार श्याम के रूप में सामने आता है। गुरु में गुरुमूर्ति की भूमिका को अभिनेता माधवन ने निभाया है।

खैर, बोफोर्स के मामले में भी गुरुमूर्ति की खोजी पत्रकारिता जासूसी के उच्चतम स्तर पर पहुंच गई थी। उन्होंने भारत सरकार की नाक में दम कर दिया और परिणाम स्वरूप जेल भी गए। गुरुमूर्ति आज हमारे बीच एक ऐसे पत्रकार के रूप में हैं, जिन्हें आदर्श माना जा सकता है। हालांकि पत्रकार उन्हें चार्टर्ड अकाउंटेंट ज्यादा मानते हैं, जबकि चार्टर्ड अकाउंटेंट उन्हें पत्रकार के रूप में देखते हैं। स्वदेशी जागरण मंच के एक संयोजक और एक शुद्ध भारतीय चिंतक के रूप में गुरुमूर्ति आदर के प्रतीक हैं। गुरुमूर्ति एक चिंतक के रूप में दूसरों को सहज ही यह अहसास कराते हैं कि भारतीय होना अपने आप में एक उपलçब्ध है और भारतीय संस्कृति व परिवार व्यवस्था का कोई सानी नहीं है।

बहरहाल, यह मेरे लिए बहुत गर्व की बात है कि गुरुमूर्ति के हाथों मैं 4 जनवरी को जयपुर में सम्मानित हुआ। क्रमश:..........

4 comments:

प्रवीण त्रिवेदी...प्राइमरी का मास्टर said...

स्वदेशी जागरण मंच के एक संयोजक और एक शुद्ध भारतीय चिंतक के रूप में गुरुमूर्ति आदर के प्रतीक हैं। गुरुमूर्ति एक चिंतक के रूप में दूसरों को सहज ही यह अहसास कराते हैं कि भारतीय होना अपने आप में एक उपलब्ध है
सच है ...... सहमत हूँ मैं!!!!

Suresh Chiplunkar said...

गुरुमूर्ति प्रखर राष्ट्रवादी चिन्तक हैं, उन जैसे महान व्यक्ति के हाथों आप सम्मानित हुए हैं आपको बधाई, वैसे यह सम्मान समारोह किस सिलसिले में था, इसे अगली पोस्ट में विस्तार से बतायें एवं गुरुमूर्ति सम्बन्धी कोई अन्य घटना का स्मरण हो तो वह भी बतायें, इन्तज़ार रहेगा…

ज्ञानेश उपाध्याय (gyanesh upadhyay) said...

jaroor

राजीव जैन Rajeev Jain said...

सर बधाई हो